Sukoon | Shayari In Hindi | 2019

Sukoon, Shayari in Hindi
Sukoon

वक्त को अच्छा समझ गलती कर बैठे
उन को नजरअंदाज कर बैठे
के सुकून के पल ढूढती है
हम गम समेट कर बैठे
Writer ; Safahat Mirza

Comments

Popular posts from this blog

नजरअंदाजी 2019 | नजरअंदाजी बेवफा शायरी | बेवफा शायरी

जज्बात शायरी इन हिंदी | जज्बात गज़ल शायरी इन उर्दू | जज्बात 2019 | Latest Shayari