मोहब्बत की फ़सल हिंदी शायरी | हिंदी शायरी 2019 |

मोहब्बत की फ़सल हिंदी शायरी 



hindi shayari 2019
मोहब्बत की फ़सल 


हिंदी शायरी 2019 

इस दिल की बंजर जमीन पर
मोहब्बत की फसल यू न लगाओ
खुदकुशी करना पडे़गी जरा
इसका दाम तो मालुम करके आओ
Writer ; Safahat Mirza



उर्दू शायरी 

Comments

Popular posts from this blog

नजरअंदाजी 2019 | नजरअंदाजी बेवफा शायरी | बेवफा शायरी

जज्बात शायरी इन हिंदी | जज्बात गज़ल शायरी इन उर्दू | जज्बात 2019 | Latest Shayari